सुरक्षित और फायदेमंद ट्रक व्यापार के लिए जरुरी है ये 5 विकसित ट्रकिंग उपकरण

Order your Free FASTag Today!

Order Now

जहां एक तरफ, डिजिटल युग और तकनीकी उपकरणों की वजह से ट्रक संचालन की लागत में वृद्धि कर रही है। वहीं कुछ नई तकनीक भी है जिससे ट्रक व्यापार में होने वाले खर्चे को भी कम किया जा सकता है। 

फायदेमंद व्यवसाय के लिए भारत में ट्रांसपोर्टरों द्वारा टॉप 5 ट्रेंड का पालन किया जा रहा है: 

  • जीपीएस (GPS)

लगभग हर ट्रक चालक को जीपीएस का बुनियादी उपयोग पता होता है, लेकिन समस्या यह है कि वे इसके उपयोगों को उनके समय और संसाधनों के अनुसार नहीं पाते हैं। जीपीएस ना केवल वाहन के लाइव ट्रैकिंग को सक्षम करता है, बल्कि चोरी और तेल में होने वाले खर्चे को भी कम करता है। 

  • निकटतम माल/भार तुरंत पाएं

यह परिवहन क्षेत्र में तकनीक का एक विकसित उपयोग है। जीपीएस का उपयोग करते हुए, ट्रकों को तुरंत निकटतम माल / भार के साथ मिलान किया जा सकता है।

  • डैश कैमरा

एक डैश कैमरा वाहन के साथ-साथ सड़क के हर जानकारी को रिकॉर्ड करने में मदद करता है। और तो और कैमरा लगवाने से आपकी बीमा लागत भी कम होगी।

  • तापमान नियंत्रित कंटेनर

ट्रांसपोर्टर सभी प्रकार के सामान ले जाते हैं जिनमें से कुछ खाद्य पदार्थों या दवाइयों में न्यूनतम तापमान में रखने वाले होते हैं। इसलिए, ट्रक मालिकों के लिए तापमान नियंत्रित कंटेनर होना बहुत जरुरी है।

  • एसएएएस (SaaS) 

SaaS का अर्थ है एक कंपनी जो उपयोगकर्ताओं को सेवा के रूप में अपने सॉफ़्टवेयर का उपयोग करने की अनुमति देती है। SaaS के कई उपयोगों में से एक ‘इलेक्ट्रिक लॉग बुक’ है जिसका उपयोग ड्राइवरों और वाहन पर नज़र रखने के लिए किया जा सकता है।

ये भारत में अग्रणी ट्रांसपोर्टरों द्वारा उपयोग की जा रही सबसे उन्नत तकनीकों में से कुछ हैं। भारत में ट्रक ड्राइवरों के लिए इन उन्नतियों को जल्द से जल्द अनुकूलित करना जरुरी हो गया है।

ट्रांसपोर्ट और लॉजिस्टिक्स क्षेत्र से जुड़े अन्य अपडेट के लिए हेल्प पोर्टल पर जाएँ। 

Have a question related to truck business? / क्या आपके पास कोई ट्रक व्यवसाय से संबंधित प्रश्न है?
Ask / प्रश्न पूछे

प्रातिक्रिया दे

Pay only Rs 3400 (60% Off) for GPS. Offer available for a limited time*

X