भारत में हाल ही में लॉन्च हुए ये दो इलेक्ट्रॉनिक ट्रक, जानिए ट्रक व्यवसाय में इससे कैसे होगा लाभ

Order your Free FASTag Today!

Order Now

पूरी दुनिया इस समय तकनीकी बदलाव से गुजर रही है और परिवहन क्षेत्र भी इस बदलाव के लिए लगभग तैयार है। 

भारतीय परिवहन क्षेत्र स्वचलित (Automated) वाहनों जैसे अन्य मुख्य तरक्की से फिलहाल दूर है, ऐसा लगता है कि इलेक्ट्रिक ट्रक जल्द ही इस क्षेत्र में वास्तविकता बन कर उभरेगा।

परिवहन व्यापार में इलेक्ट्रिक वाहनों के 4 लाभ:

  • तेल में होने वाले खर्चे में कमी

  • कम रखरखाव लागत
  • कार्बन का निकलना भी बंद 
  • गाड़ी में सुरक्षा उपकरण मौजूद 

कयास लगाए जा रहे हैं कि, इलेक्ट्रिक व्यापारिक वाहन एक दो साल में भारतीय सड़कों पर दिखने लगेंगे। लेकिन, भारतीय ट्रक मालिकों को इस वाहन से अच्छी तरह से अनुकूल होने में कितना समय लगेगा यह अभी भी अपने आप में एक बड़ा सवाल है।

भारत में हाल ही में लॉन्च किए गए इलेक्ट्रॉनिक ट्रक

  • IPLT राइनो 5536

गुरुग्राम स्थित इंफ्राटाइम लॉजिस्टिक्स टेक्नोलॉजीज द्वारा डिज़ाइन किया गया, राइनो 5536 को सितंबर 2019 में लॉन्च किया गया था और बाजार में इसकी काफी चर्चा हुई थी। 

सिंगल चार्ज में इसकी अधिकतम सीमा 100 किमी होगी। IPLT के एक प्रवक्ता ने भी पुष्टि करते हुए कहा कि, वे कुछ महीनों के भीतर भारतीय बाजार में राइनो 5536 को आम जनता के लिए उपलब्ध करा देंगे। 

  • Tata Ultra T.7

Tata द्वारा डिज़ाइन किया गया, अल्ट्रा T.7 फरवरी 2020 में लॉन्च किया गया था। इसमें कंपनी ने 62.5 kWh की क्षमता का बैटरी पैक प्रयोग किया है जो कि तकरीबन 245 kW यानी (328 hp) की पावर और 2,800 Nm का टॉर्क जेनरेट करता है। 

इस इलेक्ट्रिक ट्रक में कंपनी ने DC फास्ट चार्जिंग सिस्टम का भी प्रयोग किया है जो कि इसकी बैटरी को जल्द से जल्द चार्ज करता है। Tata Ultra T.7 इलेक्ट्रिक ट्रक को चार्ज करने में महज 2 घंटे का समय लगेगा। सिंगल चार्ज में इसकी अधिकतम सीमा 120 किमी होगी।

Have a question related to truck business? / क्या आपके पास कोई ट्रक व्यवसाय से संबंधित प्रश्न है?
Ask / प्रश्न पूछे

प्रातिक्रिया दे

Pay only Rs 3400 (60% Off) for GPS. Offer available for a limited time*

X